चित्तोडगढ़।जिले में विगत कुछ दिनों से कुछ स्थानों पर एटीएम से छेड़छाड़ की वारदातें सामने आई है इस संबंध में राजेंद्र प्रसाद गोयल पुलिस अधीक्षक चित्तौड़गढ़ ने सभी थाना अधिकारी व प्रभारी जिला विशेष टीम को विशेष निर्देश दिए थे इसी क्रम में  हिम्मत सिंह देवल अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक मुख्यालय ने प्रभारी जिला विशेष टीम को विशेष निर्देश दिए थे। कल दिनांक 25 दिसम्बर की रात्रि को प्रभारी जिला विशेष टीम को सूचना मिली कि मंगलवाड चित्तौड़गढ़ रोड  मंगलवाड स्थित एसबीआई के एटीएम में कुछ संदिग्ध गतिविधि हो रही है। उक्त सूचना से पुलिस थाना मंगलवाड  सूचित कर जिला विशेष टीम प्रभारी  विक्रम सिंह राणावत ने मय टीम व असराम सउनि पुलिस थाना मंगलवाड के उक्त एटीएम पर पहुंचे तो एटीएम को कटर से काटने के कारण चिंगारी  दिखाई दी। एटीएम काटने वाले दो व्यक्तियों को रंगे हाथ डिटेन किया। एटीएम पर मिले व्यक्तियों से उनके नाम पते पूछे तो एक ने अपना नाम मुकेश पिता रामेश्वर लाल अहीर निवासी पदमपुरा पुलिस थाना मंगलवाड तथा दूसरे ने अपना नाम राम सिंह पिता भगवत सिंह राजपूत निवासी चकतिया थाना मंगलवाड होना बताया। जिनसे पूछताछ की तो बताया कि दिनांक 24.12 .2021 को हम लोगों ने मिलकर एटीएम को तोड़ने का प्रयास किया था किंतु सफल नहीं हो पाए इसलिए आज हम इस एटीएम से पैसे चुराने के लिए पुनः आये है। पुलिस की पूछताछ में बताया कि हमारे साथ मोहन लाल पिता रामेश्वर लाल जाति अहीर निवासी चकतिया थाना मंगलवाड भी हमारे साथ था जिसे पुलिस ने डिटेन कर लिया। पुलिस ने उक्त घटना में अभियुक्तों द्वारा प्रयुक्त किए गए  एटीएम तोड़ने के सामान लोहे की छोटी सबल, हथौड़ा, गलाईन्डर, पेचकस व मोटर साइकिल को जब्त कर लिया। एसबीआई बैंक अधिकारियों ने बताया कि वक्त घटना पर एटीएम में 37 लाख रुपये थे, जो की चोरी होने से बच गए। 
  उक्त कार्यवाही में जिला विशेष टीम प्रभारी विक्रम सिंह सीआई, कॉन्स्टेबल मुनेंद्र सिंह, चंद्र करण कानि, दिनेश कानि, जीतेंद्र, राजदीप
चालक कानि शांतिलाल एवं पुलिस थाना मंगलवाड से आसराम सउनि शामिल रहे।