चित्तौडगढ। निजी चिकित्सा संस्थानो की बैठक सीएमएचओ कार्यालय के सभागार में आहूत की गई। डाॅ रामकेश गुर्जर ने समस्त प्रभारी नीजि चिकित्सा संस्थानो को निर्देशित किया कि चिकित्सा संस्थान में कोई भी व्यक्ति बिना मास्क प्रवेश ना करें यह सुनिश्चित करे। चिकित्सा संस्थान के स्टाफ द्वारा कोविड एप्रोप्रीयेट बिहेवियर की कडाई से पालना सुनिश्चित की जावे।    
   उन्होने बताया कि चिकित्सा संस्थान मे आउटडोर वआईपीडी  मरीजों का पूर्ण विवरण  रजिस्टर में इन्द्राज कर रखा जावे। चिकित्सा संस्थान में आने वाले प्रत्येक आई.एल. आईपेशेंट की निःशुल्क कोविड-19 जाँच करायी जावे। प्रत्येक सर्जरी की जाने मरीजो का कोविड-19 टेस्ट अनिवार्य रूप से कराया जावें। ओपीडी/आईपीडी/आईएलआई   पेशेंट की सूचना प्रतिदिनविभाग द्वारा बनाये गये व्हाटस एप गु्रप पर पे्रषित की जावे। 
 कोविड19 जाँच निःशुल्क उपलब्ध करायी जावे।डाॅ गुर्जर ने बताय कि वीटीएम विभाग द्वारा   निजीचिकित्सालयो को उपलब्ध करवाई जावेगी। निजी चिकित्सालय अधिक सेअधिक सेम्पल करवाया   जाना सुनिश्चित करे। एचआरसीटी की दैनिकरिपोर्ट अधोहस्ताक्षरकर्ता को भिजवाये जाने के निर्देश प्रदानकिये।              
डाॅ ओ पी कुल्हेरी अतिरिक्त मुख्य चिकित्सा एंव स्वास्थ्यअधिकारी ने  शहरी क्षैत्र में बेहतर मोनिटरिंग   एंवसुपरविजन के निर्देश प्रदान किये।
  बैठक में पर्ल होस्पीटल, राधा कृष्णा होस्पीटल, मेवाडहोस्पीटल, बिरला चिकित्सालय एंव मेहता मेटरनिटी चिकित्सालय, अक्षरहोस्पीटल  एंव जिंक निजी चिकित्सालयो के  प्रतिनिधि के साथ साथखुशवन्त कुमार हिण्डोनिया डाटा प्रबंधक, शफीक ईकबाल शेख,समन्वयक पीसीपीएनडीटी उपस्थित रहे।