नव वर्ष पर मेवाड़ के प्रख्यात शनिधाम शनि महाराज आली में 

 सोनियाना।नववर्ष के प्रथम शनिवार को मेवाड के प्रख्यात शनिधाम शनिमहाराज आली में दर्शनार्थीयो का हुजुम उमड पडा। दर्शनार्थियो की सुरक्षा व्यवस्था बनाये रखने के लिये स्वय सेवक सहीत भारी तादाद में पुलिस जाप्ता तैनात रहा। 
नववर्ष के प्रथम शनिवार व चतुर्थदशी का विशेष योग मिलने पर दर्शनार्थियो का तांता लगा रहा। गुजराज, महाराष्ट्र, मध्यप्रदेश, हरीयाणा उत्तरप्रदेश सहित राजस्थान के विभिन्न जिलो से हजारो की तादाद में दर्शनार्थी दर्शन करने पहुॅचे। अलसुबह से ही श्रद्वालुओ की लम्बी लम्बी कतारे लगी रही। श्रद्वालुओ ने नववर्ष में खुशहाली की कामना को लेकर आये श्रद्वालुओ ने काला अन्न, काला कपडा, काली घातु व तेल प्रसाद चढा कर शनिदेव को प्रसन्न करने के जतन किये । शनिदेव को न्याय का देवता भी कहा जाता है ।लोगो के अच्छे बुरे कर्माे का हिसाब शनिदेव ही रखते है इसी को ध्यान में रखते हुए नववर्ष के पहले शनिवार को हजारो श्रद्वालुओ ने भगवान श्री शनिदेव के दर्शन की आशीवार्द लिया। व पनोती स्वरूप अपने जुते भी वही खोल कर गये।  वही तेलकुण्ड , नवग्रह मन्दिर में भी दिन भर श्रद्वालुओ की भीड लगी रही। मुख्य मंन्दिर के बाहर भजन किर्तन का भी आयोजन हुआ। प्रबन्धकारणी कमेठी के अध्यक्ष छगन लाल गुर्जर , सचिव कालुसिह सहीत कमेठी के सभी सदस्य भी यात्रियो की व्यवस्थाओ मे लगे हुए थे। 
श्रद्वालुओ के भारी आवक के चलते कई बार जाम की स्थिती भी बन गई । भादसोडा शनिमहाराज व शनिमहाराज कपासन मार्ग पर 2 -2 किलोमीटर तक वाहनो की कतारे लग गई। पाण्डोली चौकी प्रभारी भवानी सिह मय जाप्ता व कपासन थाने के जाप्ते ने मौके पर पहुच कर यातायात व्यवस्था को सुचारू करवाया।