जिला पुलिस अधीक्षक जैन ने ली जिले के समस्त अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक वृताधिकारी एवं थानाधिकारियों की अपराध गोष्ठी।

चित्तौडगढ। जिला पुलिस अधीक्षक प्रीति जैन ने बुधवार को जिला हाजा के समस्त अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक वृताधिकारी एवं थानाधिकारियों की अपराध गोष्ठी ली। सम्पत्ति संबंधी अपराधों में अपराधियों को गिरफ्तार कर माल की बरामदगी करने और अनट्रेस प्रकरणों को ट्रेस करने, पेडिंग प्रकरणों का निस्तारण करने के साथ ही आगामी त्यौहारों पर शांति एवं कानून व्यवस्था बनाये रखने संबंधी निर्देश दिए।
 पुलिस अधीक्षक जैन ने बताया कि चोरी, नकबजनी व लूट की वारदातों पर अंकुश लगाने एवं अपराघ करने वालों को चिन्हित कर उनके इलाकों में दबिश देकर गिरफ्तार कर संपत्ति संबंधी अपराधों में माल की बरामदगी के निर्देश दिए। संध्याकालीन एवं रात्रि गश्त में जाब्ता बढ़ाकर विशेष निगरानी रखने, पेंडेसी पुलिस मुख्यालय के अनुरूप रखने के निर्देश प्रदान किये। स्थाई वारंटी, भगोडे व मफरूरों की गिरफ्तारी के लिए टीम गठित कर अधिक से अधिक गिरफ्तारी करने के साथ ही नाकाबंदी के दौरान मोटर व्हीकल एक्ट में अधिक से अधिक कार्यवाही कर सड़क दुर्घटनाओं पर अंकुश लगाने के निर्देश प्रदान किये। अवैध हथियारों की अधिक से अधिक जप्ती कर नियमानुसार कार्यवाही, मालखानों आईटमों के अधिक से अधिक निस्तारण के निर्देश प्रदान किये। झुठा प्रकरण दर्ज करवाने वाले परिवादियों के विरुद्ध भी नियमानुसार कार्यवाही के निर्देश प्रदान किये। जिले में जुआ सट्टा व एनडीपीएस एक्ट की अधिक से अधिक कार्यवाही के निर्देश थानाधिकारी को प्रदान किये तथा थाना पर काफी समय से पड़े माल व लावारिस वाहनों के निस्तारण करने के भी निर्देश प्रदान किये।
  मीटिंग के दौरान पुलिस अधीक्षक ने अलग अलग कार्यवाही में अच्छा कार्य करने वालें अधिकारी /कर्मचारियों की सराहना करते हुए उन्हें पुरूस्कार देने तथा कार्य के प्रति लापरवाही बरतने पर उनके खिलाफ नियमानुसार कार्यवाही की चेतावनी दी। 
 अपराध गोष्ठी में कैलाश सिंह सांदु अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक मुख्यालय चित्तौड़गढ़ एवं शाहना खानम अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक, महिला अपराध एवं अनुसंधान प्रकोष्ठ तथा समस्त वृताधिकारी व थानाधिकारी सहित संचित निरीक्षक व कार्यालय स्टॉफ उपस्थित रहा।