चित्तौड़गढ़। “इन्वेस्ट चित्तौड़गढ़” के तहत नितिन स्पिनर्स बेगूं ने शुक्रवार को टेक्सटाइल सेक्टर में 250 करोड़ रूपए का निवेश करने के लिए जिला कलक्टर ताराचंद मीणा के साथ एमओयु किया।
 इस दौरान जिला उद्योग केंद्र महाप्रबंधक सहीराम विश्नोई, नितिन स्पिनर्स के जॉइंट मेनेजिंग डायरेक्टर नितिन नवलखा, वाइस प्रेसिडेंट अनिल जैन, हिन्दुस्तान जिंक लिमिटेड लोकेशन हेड सी चंद्रू, सीएसआर हेड विकास अग्रवाल उपस्थित रहे। नितिन स्पिनर्स का यह निवेश के आने से 450 लोगों को प्रत्यक्ष एवं अप्रत्यक्ष रूप से रोजगार उपलब्ध हो सकेगा। “इन्वेस्ट चित्तौड़गढ़” के तहत 24 दिसंबर को आयोजित जिला स्तरीय समारोह में इसका लेटर ऑफ़ इंटेंट प्रस्तुत किया था जिसको एक कदम आगे बढाते हुए अब एमओयु में तब्दील कर दिया गया है।
  इसके अलावा गुरुवार शाम को विक्रांत आयरन इंडस्ट्रीज भदेसर ने ओटो टिपर और क्लीनिंग इक्विपमेंट मेन्युफेक्चरिंग क्षेत्र में 2.25 करोड़ रूपए के निवेश का एमओयु किया जिससे करीब 35 लोगों को रोजगार उपलब्ध हो सकेगा। इस निवेश के आने से स्वच्छ भारत अभियान को भी गति मिल सकेगी। स्थानीय स्तर पर ही कचरा संग्रहण के लिए ओटो टिपर बनाए जाएंगे। पहले ओटो टिपर खरीदने के लिए पंचायतों और नगर निकायों को आस-पास के अन्य जिलों या राज्यों पर निर्भर रहना पड़ता था। लेकिन अब ये ओटो टिपर चित्तौड़गढ़ में ही बनेंगे, जिससे आस-पास के सभी जिलों के लिए यह उपयोगी साबित होगा। एमओयु के बाद जिला कलक्टर ताराचंद मीणा ने हरी झंडी दिखा कर ओटो टिपर्स को रवाना भी किया।
  इसी तरह हरिओम ट्रेडर्स भादसोड़ा ने मूंगफली प्रोसेसिंग यूनिट के लिए 2.50 करोड़ रूपए के निवेश का एमओयु किया, जिससे करीब 85 लोगों को रोजगार उपलब्ध हो सकेगा। यह यूनिट एक श्रम गहन इकाई है, इसमें महिलाओं को मुख्य रूप से रोजगार उपलब्ध कराया जाएगा, इससे महिला सशक्तिकरण को भी बढ़ावा मिलेगा।