चित्तौड़गढ़ । जिला कलक्टर ताराचंद मीणा द्वारा कोविड टीकाकरण का कवरेज बढाने को लेकर निरंतर नवाचार किए जा रहे हैं। इसी क्रम में के बुधवार को पुलिस थानों और चौकियों में कोरोना टीकाकरण शिविर आयोजित किए गए। पहली बार पुलिस थानों और चौकियों में टीकाकरण शिविर होने से आमजन में भी काफी उत्साह देखा गया।
आम तौर पर पुलिस थानों और चौकियों में लोग अपनी फ़रियाद लेकर ही पहुँचते नजर आते हैं, लेकिन बुधवार को लोग यहाँ कोरोना का टीका लगवाने पहुंचे। जिले के थानों और चौकियों में टीकाकरण शिविर लगे, थानों-चौकियों को सजाया गया, टीका लगाने पहुंचे लोगों का तिलक लगा कर और माला पहना कर स्वागत किया और तो और पुलिस कर्मी घर-घर जाकर लोगों को टीकाकरण हेतु थानों और चौकियों में लाते हुई भी दिखाई दिए। इससे न सिर्फ टीकाकरण कवरेज बढ़ा, बल्कि आमजन में पुलिस के प्रति विश्वास में भी वृद्धि हुई।
 आमजन ने कहा कि आम तौर पर पुलिस आमजन की आपराधिक तत्वों से सुरक्षा करती ही दिखाई देती है, पहली बार पुलिस को वैक्सीनेशन अभियान में भी भागीदारी निभाते देखा जा रहा है। उल्लेखनीय है कि पुलिस द्वारा लॉकडाउन के दौरान भी जनसेवा के कई कार्य किए गए थे, अब वैक्सीनेशन अभियान चला कर भी पुलिस ने “आमजन में विश्वास” की कहावत को चरितार्थ किया है।

पुलिस के सहयोग से टीकाकरण के लक्ष्य अर्जन में भी इजाफा हुआ। सीएमएचओ डॉ रामकेश गुर्जर ने बताया है कि बुधवार को पुलिस थानों सहित चिकित्सा संस्थानों पर आयोजित शिविरों में एक ही दिन में लगभग 27,000 लोगों का वैक्सीनेशन हुआ। उन्होंने यह भी बताया कि जिले में अब तक पहली डोज़ के टार्गेट लगभग 11.57 लाख के विरुद्ध 11.12 लाख लोगों का टीकाकरण हुआ है, जो 96% से अधिक है। ऐसे ही दूसरी डोज़ के टार्गेट लगभग 11.12 लाख लाभार्थियों के विरुद्ध 8.96 लाख का टीकाकरण हुआ है, जो 80% से अधिक है।

थानों और चौकियों में वैक्सीनेशन अभियान के दौरान जिला कलक्टर ताराचंद मीणा, सभापति  संदीप शर्मा और एडिशनल एसपी हिम्मत सिंह देवल भी टीकाकरण शिविरों का निरीक्षण करने निकले। सेंती पुलिस चौकी पर उन्होंने आमजन और चिकित्सा कर्मियों को मोटिवेट किया।

जिला कलक्टर ने कहा कि मुख्यमंत्री  अशोक गहलोत आमजन के स्वास्थ्य के लिए काफी चिंतित हैं एवं निरंतर आमजन को वैक्सीनेशन के लिए प्रेरित कर रहे हैं। इसी क्रम में जिला प्रशासन द्वारा पुलिस थानों और चौकियों पर वैक्सीनेशन का नवाचार किया है जिसमें उत्साह देखा गया है।

जिला पुलिस अधीक्षक श्री राजेंद्र प्रसाद गोयल ने कहा कि कोरोना की दोनों लहर के दौरान पुलिस को जनता के करीब जाने का कई बार अवसर मिला। चाहे गाइडलाइन का प्रभावी क्रियान्वयन करना हो या जरूरतमंदों तक राशन, मास्क और अन्य राहत सामग्री पहुँचाना…पुलिस ने इन जनसेवा के कार्यों को बखूबी पूरा किया है। अब वैक्सीनेशन कैम्प लगा कर भी पुलिस विभाग को एक सुखद अनुभूति हुई है। इसमें कोई दोराय नहीं कि इस तरह के कार्यक्रमों से पुलिस और जनता के बीच सीधा संवाद स्थापित होता है।

एडिशनल एसपी हिम्मत सिंह देवल ने कहा कि पुलिस हमेशा आमजन की सुरक्षा के लिए तत्पर है, थानों और चौकियों में लगे कैंप में अच्छी संख्या में लोग पहुंचे हैं।

सभापति संदीप शर्मा ने कहा कि जिले में अधिकाधिक टीकाकरण के लिए पुलिस-प्रशासन चिंतित है। लॉकडाउन के दौरान भी पुलिस ने लोगों की सेवा के लिए दिन-रात कार्य किया था। नगरपरिषद भी वैक्सीनेशन कार्य में हर संभव सहयोग के लिए तैयार है।