चित्तौड़गढ़। लाईट एण्ड साउंड मामले में जिला कलक्टर श्री ताराचंद मीणा द्वारा दूरदर्शिता दिखाते हुए की गई तत्पर कार्रवाई का आमजन ने स्वागत किया है। गुरुवार को जौहर स्मृति संस्थान एवं राजपूत समाज के अन्य पदाधिकारी जिला कलक्टर से उनके निवास पर मिले एवं आभार व्यक्त कर कहा कि जिला कलक्टर की मामले के प्रति गंभीरता से एक विवाद पूरी तरह थम गया है। इससे आमजन में प्रशासन के प्रति विश्वास भी बढ़ा है।

लाईट एण्ड साउंड की स्क्रिप्ट में सुधार के बाद जौहर स्मृति संस्थान एवं समाज के अन्य पदाधिकारियों ने बुधवार को जिला कलक्टर का आभार व्यक्त किया। जिला कलक्टर का आभार जताने पहुंचे जौहर स्मृति संस्थान के अध्यक्ष श्री तख़्त सिंह सोलंकी ने बताया कि लाईट एण्ड साउंड को लेकर विवाद सामने आते ही जिला कलक्टर ने तुरंत संज्ञान लेते हुए मामले को गंभीरता से लिया। उन्होंने कार्यक्रम को सुधार होने तक रोक कर रखा एवं उच्च स्तर पर वार्तालाप कर एक ही दिन में स्क्रिप्ट में सुधार कर ही पुन: लाईट एण्ड साउंड शुरू करवाया। संस्थान के अध्यक्ष श्री तख़्त सिंह सोलंकी ने कहा कि जिला कलक्टर द्वारा की गई कार्यवाही से आमजन संतुष्ट हुआ है।

श्री सोलंकी ने कहा कि जिला कलक्टर ने पूरे प्रकरण में काफी संवेदनशीलता दिखाई, सर्वसमाज की भावनाओं को ध्यान में रखा एवं त्वरित कार्यवाही करते हुए किसी प्रकार का कानूनी व्यवधान नहीं होने दिया। उन्होंने कहा कि इससे आमजन में प्रशासन के प्रति सकारात्मक सन्देश गया है। ऐसे मेवाड़ क्षत्रिय महासभा के महामंत्री श्री तेजपाल सिंह शक्तावत ने कहा कि जिला कलक्टर द्वारा समय रहते त्वरित कार्रवाई नहीं की जाती, तो क़ानून व्यवस्था भी प्रभावित हो सकने की संभावना थी। लेकिन जिला कलक्टर की दूरदर्शिता से मामले का त्वरित समाधान हो सका।

बुधवार को जिला कलक्टर से मुलाकात के दौरान इस दौरान जौहर स्मृति संस्थान के अध्यक्ष श्री तख़्त सिंह सोलंकी, उपाध्यक्ष शक्ति सिंह मुरलिया, कोषाध्यक्ष नरपत सिंह भाटी, महामंत्री मंगल सिंह खंगारोत, संयुक्त मंत्री गजराज सिंह बराड़ा, तेजपाल सिंह शक्तावत, भंवर सिंह नेतावलगढ़, दलपत सिंह चुंडावत, लाल सिंह अमराना, कान सिंह सुवावा, मनोहर सिंह ओरडी, मिट्ठू सिंह सांकलखेडा, राजेंद्र सिंह खेडिया, श्रीनाथ सिंह तलाऊ, उदय सिंह चौहान सिंगोला, अर्जुन सिंह मिन्डाना आदि उपस्थित रहे।