चित्तौड़गढ़। उपखंड राशमी क्षेत्र के राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय  मरमी के शिक्षकों में वैश्विक महामारी कोरोना काल में भी जोश, जुनून, जज्बा देखने को मिला, जब स्वयं के खर्चे से इस कोरोना काल में भी माँ सरस्वती मंदिर व मंच का निर्माण करा बुधवार को पंडित गोपाल शर्मा ने वैदिक मंत्रोच्चार द्वारा मूर्ति प्राण प्रतिष्ठित की। 
कार्यक्रम सरपंच प्रतिनिधि गोटू लाल अहीर, कनिष्ठ तकनीकी सहायक विनोदकुमार श्रोत्रिय ,सचिव जितेंद्र कुमार, सहायक सचिव शांतिलाल तेली, रूप लाल अहीर, किशनलाल अहीर, शिक्षक संघ राष्ट्रीय के अध्यक्ष गोपाल जाट के आतिथ्य में सम्पन्न हुआ। 
प्रधानाचार्य विक्रमसिंह लाखोटिया ने बताया कि सरस्वती मंदिर व मंच निर्माण में विद्यालय में कार्यरत प्रत्येक शिक्षक ने स्वेच्छा से आर्थिक सहयोग दिया। जिसकी परिणति से मंदिर तैयार हुआ। पीईईओ क्षेत्र के विद्यालय गोकलपुरा के प्रबोधक किशनलाल अहीर ने सरस्वती मूर्ति भेंट की। मंदिर व मंच निर्माण में आर्थिक सहयोग विद्यालय के व्याख्याता माधवलाल सुथार, विनोदकुमार, वरिष्ठ अध्यापक कालूसिंह चुंडावत, राजेंद्रकुमार व्यास, राकेश भील, ईशराज रेगर, रघुवीरसिंह भाटी, शिवदानसिंह भाटी, दिलीपकुमार पाराशर, पुष्पेंद्र जोशी, राजेशनारायण शर्मा निर्मला त्रिपाठी, रामजस विजयवर्गीय ने किया। सरपंच प्रतिनिधि गोटूलाल अहीर ने सभी दानदाता शिक्षकों का माल्यार्पण कर आभार जताया। इस अवसर पर पीईईओ क्षेत्र के समस्त शिक्षक उपस्थित थे।