डूंगला। अष्टम नाकोड़ा जी पैदल यात्रा संघ बड़ी सादड़ी से रविवार को संघ के रूप में रवाना हुआ था। उक्त दल 9 दिन बाद 330 किलोमीटर की यात्रा कर मोकलसर मारवाड़ पहुंच चुका है। यात्रियों ने अपने अनुभव हमारे रिपोर्टर के साथ साझा करते हुए यात्रा संघ के अध्यक्ष नमन मेहता एवं मंत्री मोहित मेहता ने बताया कि हम सभी यात्री अपने नित्य नियम के अनुसार प्रतिदिन सुबह में आरती करते हैं  एवं शाम को भक्ति संध्या करते हैं। और सभी एक दूसरे का हौसला बढ़ाते हुए आगे बढ़ रहे हैं। इस भयानक सर्दी में भी हमें पैदल चलने का एक अलग ही अनुभव मिल रहा है।  रास्ते में आने वाले सभी देव दर्शन एवं प्रकृति की इस मनोरम छटा का आनंद लेते हुए अपनी यात्रा तय कर रहे हैं । इसी प्रकार हम भक्ति करते हुए नाकोड़ा भैरव की जयकारा लगाते हुए यात्रा निरंतर जारी है। 31 दिसंबर को मंदिर में प्रवेश के भाव रखते हैं ।